Dard Bhari Shayariyan Jo Dil Ko Dil Ko Shu Le

Dard Bhari Shayariyan Jo Dil Ko Dil Ko Shu Le,






Meri Maut Hui Hi Nahi,
Or Wo Mere Chita Sja Gai,
Mujhe Jalaya Nahi,
Par Mere Ruh Ko Jala Gai,





मेरी मौत हुई ही नहीं,
और वो मेरे चिता सजा गई,
मुझे जलाया नहीं,
पर मेरे रूह को जला गई,






Naa Kam Me Nahi
Or Naa Meri Mohabbat Hai,
Je To Khuda Ne,
Mere Nasib Me Likhi
Thodi Si Duri Hai,





नाकाम में नहीं
और ना मेरी मोहब्बत है,
जे तो खुदा ने,
मेरे नसीब में लिखी
थोड़ी सी दुरी है,






Meri Mot Par Jo, Aaj Ansu Bahate Hai,
Kal Jab Hm Kahte The,
Mar Jaenge Tum Bin,
Tab Wo Bahut Muskurate The,





मेरी मोत पर जो, आज आंसू बहाते है,
कल जब हम कहते थे,
मर जाएंगे तुम बिन,
तब वो बहुत मुस्कुराते थे,






Gm Nahi Ishq Me Mot Ho Jae Agar,
Tute Huy Dil Ko,
Khanjar Se Chir Jae Agar,
Es Duniya Ki Hmen Jarurat Naa Hogi,
Agar Meri Mohabbat Mere Sath Naa Hogi,





गम नहीं इश्क़ में मौत हो जाए अगर,
टूटे हुए दिल को,
खंजर से चीर जाए अगर,
इस दुनिया की हमें जरुरत ना होगी,
अगर मेरी मोहब्बत मेरे साथ ना होगी,





Tut Kar Bekhar Jane Ko Jii Chahata hai,
Tu Bevafa Hai Jan Kar,
Mar Jane Ko,
Ji Chahata hun






टूट कर बिखर जाने को जी चाहता है,
तू बेवफा है जान कर,
मर जाने को,
जी चाहता हूँ







Meri Mot Ka Yashn Manaa Le
Jalti Chita Ko Dekh Kar,
Khushi ke Git Gaa le,
Me To Musafir Hun Yahi Se Laut Jaunga,
Tu Apna Hm Safar Kisi Or Ko Chun le,






मेरी मौत का यशन मना ले
जलती चिता को देख कर,
ख़ुशी के गीत गा ले,
में तो मुसाफिर हूँ यही से लौट जाऊंगा,
तू अपना हम सफर किसी और को चुन ले






Je Akhri Mulakat Yaad Rakhna,
Ankhon Se Behte Ansu, 
To Sukh Jaenge,
Meri Chita Sajai Hai,
Tune,
Es Baat Ko yaad Rakhna,




जे आखरी मुलाक़ात याद रखना,
आँखों से बहते आंसू, 
तो सूख जाएंगे,
मेरी चिता सजाई है,
 तूने,
इस बात को याद रखना,





Na jane  kab ekrar ho gaya
Na chahate huy  bhi tumse pyar ho gaya,
Ab dil ki dharkan bhi rukne lagi hai,
Jab se tum dur jane lagi hai





ना जाने  कब इक़रार हो गया
ना चाहते हुए  भी तुमसे प्यार हो गया,
अब दिल की धड़कन भी रुकने लगी है,
जब से तुम दूर जाने लगी है





Dil se dil ka ikraar ho gaya
Na jane kab hm ko bhi tumse pyar ho gaya,





दिल से दिल का इकरार हो गया
ना जाने कब हम को भी तुमसे प्यार हो गया,





Kar liya khud ko barbad,
Dil kisi se laga kar,
Tod deya dil mera
Usne khilona samaj kar





कर लिया खुद को बर्बाद,
दिल किसी से लगा कर,
तोड़ दिया दिल मेरा
उसने खिलौना समझ कर





Kar lena pyar kisi se,
karna naa bewafai,
Le kar chain kisi ka,
Dena na ruswaai,





कर लेना प्यार किसी से,
करना ना बेवफाई,
ले कर चेन किसी का,
देना ना  रुस्वाई,




Mahobat ne nilam kar deya,
Na chah kar bhi duniya ke samne,
mujhe Badnam kar deya,






महोबत ने नीलाम कर दिया,
ना चाह कर भी दुनिया के सामने,
मुझे बदनाम कर दिया,





Hamari hasti ko,
es kadar mita deya,
Duniya ki najron me
Hamko pagal bana deya,




हमारी हस्ती को,
इस कदर मिटा दिया,
दुनिया की नजरों में
हमको पागल बना दिया,





Tujhse bechad kar,
Tut kar bikharne laga hun,
Duniya kahti hai,
me sawarne laga hun,





तुझसे बिछड़ कर,
टूट कर बिखरने लगा हूँ,
दुनिया कहती है,
में सवारने लगा हूँ,


Previous
Next Post »